देश की आशा हिंदी भाषा

समर्थक

गुरुवार, 29 सितंबर 2011

भविष्य का स्कूटर

स्कूटर सेगमेंट में खासतौर पर भारत में बिजली से चलने वाले स्कूटर बाजार में मौजूद हैं। इनकी उपस्थिति अभी इतनी नहीं है कि यह कहा जा सके कि इन्होंने अपना स्थान बाजार में बना लिया है। विदेशों में इलेक्ट्रिक स्कूटरों को लेकर काफी जिज्ञासा रहती है एवं अच्छी खासी संख्या में लोग इनका प्रयोग करते हैं। अब इन स्कूटरों का पर्यावरण हितैषी होना इनकी सबसे बड़ी खूबी है, पर स्मार्ट ई-स्कूटर ने जो कंसेप्ट स्कूटर लाया है, उसमें सुरक्षा को लेकर काफी ख्याल रखा गया है। इस स्कूटर के डिजाइन को लेकर काफी तारीफ भी पाई है। इसे पेरिस मोटर शो में प्रदर्शित किया गया था।
* इस स्कूटर में सुरक्षा उपकरण लगाए गए हैं, जो अब तक कारों में होते थे। जैसे एयर बैग एबीएस एंटी लॉक ब्रेक सिस्टम तथा ब्लाइंड स्पॉट असिस्ट।
* इरगोनॉमिक कंसेप्ट पर आधारित इसका डिजाइन काफी अलग है।

* स्टील व एल्युमीनियम का फ्रेम है।

* इसमें एलईडी टेक्नॉलॉजी का प्रयोग किया है, फ्रंट हेडलैम्प, बैकलाइट में।

* डिक्की में पर्याप्त जगह है।

* यह स्कूटर डिस्क के आकार के व्हील हब मोटर से चलती है, जो कि 4 किलोवॉट पावर देती है।

* स्पीड़ 45 किमी प्रति घंटा है।

* इसमें 48 वोल्ट की लिथियम आयन बैटरी लगी है, जो यह 100 किमी तक चल सकती है। 3 से 5 घंटे के भीतर इसे चार्ज किया जा सकता है और वह भी घर के पावर साकेट से।
* यह स्कूटर स्मार्टफोन से जुड़ा है। स्कूटर स्टार्ट होता है तब स्मार्टफोन को हेंडलबार के पास एक विशेष डिजाइन के माउंट पर रखना होता है। इससे स्मार्ट ई-स्कूटर कंसेप्ट से जुड जाता है। 
 
एंटी थेफ्ट प्रोटेक्शन कार्य करना बंद कर देता है और स्कूटर स्टार्ट हो जाता है। स्कूटर चलाते समय स्मार्टफोन स्पीड़ोमीटर का कार्य करता है। साथ ही बैटरी लेवल भी बताता है।
 
स्मार्टफोन रास्ते की जानकारी भी ऑनलाइन देता है। गाड़ी पार्क करने के बाद यदि आप भूल गए कि स्कूटर कहाँ रखा है तब स्मार्टफोन के जीपीएस ट्रेकिंग प्रणाली से पता चल जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: