देश की आशा हिंदी भाषा

समर्थक

गुरुवार, 18 अगस्त 2011

गणित, विज्ञान में भारत आगे-ओबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि विज्ञान और गणित के क्षेत्र में अमेरिका तेजी से भारत और चीन जैसे देशों से पिछड़ता जा रहा है।
अमेरिका के ग्रामीण इलाकों की तीन दिन की बस यात्रा के समापन के दौरान कल एटकिंसन में टाउन हॉल में ओबामा ने गणित, विज्ञान और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में छात्रों को प्रोत्साहित करने पर जोर नहीं दिए जाने पर चिंता व्यक्त की।
ओबामा ने कहा कि एक बात जिसको लेकर मैं चिंतित हूं.. जिसके लिए हम शिक्षा विभाग पर ज्यादा दबाव बना रहे हैं, वह यह है कि क्या हम गणित, विज्ञान, इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी को प्रोत्साहित करने के लिए अधिक प्रयास कर सकते हैं।
उन्होंने कहा कि अगर आप दक्ष इंजीनियर है, दक्ष कम्प्यूटर इंजीनियर है, अगर अपका गणित मजबूत है और तकनीकी दक्षता है.. आज की अर्थव्यवस्था में आपके लिए सभी जगह रोजगार है।
अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि इस संबंध में शुरुआत युवाओं के कॉलेज जाने से पहले होनी चाहिए। इसलिए हम इस दिशा में समग्र प्रयास कर रहे हैं, जिसे ‘स्टेम’ कार्यक्रम का नाम दिया गया है जो प्रारंभिक कक्षाओं में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित से संबद्ध है ताकि बच्चे इस क्षेत्र की ओर शुरू से उन्मुख हो सके।
उन्होंने कहा कि पारंपरिक रूप से इन क्षेत्रों में अमेरिका को तुलनात्मक रूप से बढ़त हासिल थी लेकिन अब हम भारत और चीन जैसे देशों से पिछड़ रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: