देश की आशा हिंदी भाषा

समर्थक

सोमवार, 25 जुलाई 2011

छिलकों में भी छुपे हैं गुण

छिलकों के घरेलू प्रयोग आजमाएं
नींबू और संतरे के छिलकों को सुखाकर अलमारी में रखा जाए तो इनकी खुशबू से झिंगुर व अन्य कीट भाग जाते हैं।
ऐसे सूखे छिलकों को जलाने से जो धुआं होता है उनसे मच्छर मर जाते हैं।
इसकी राख से दांत साफ किए जाएँ तो दुर्गंध दूर हो जाती है।
नींबू निचोड़ने के बाद बचे हुए हिस्से को त्वचा पर रगड़ने से त्वचा की चिकनाई कम होती है।
इसके रगड़ने से मुंहासे भी कम होते हैं और रंग निखरता है।
पीतल और तांबे के बर्तन इससे चमकदार बनते हैं।
नींबू के छिलकों को कोहनी और नाखूनों पर रगड़ने से कालापन कम होता है और गंदगी हट जाती है।
इन्ही छिलकों को नमक, हींग, मिर्च और चीनी के साथ पीसने से स्वादिष्ट चटनी बनती है।
संतरे का रस तो चेहरे को कांतिमय बनाता ही है, छिलकों को यदि छाया में सुखाकर पीसा जाए तो यह उबटन का काम करता है जिससे चेहरे के दाग-धब्बे हटते हैं और त्वचा खूबसूरत बनती है।
संतरे के छिलके को पानी में डालकर नहाने से पसीने की दुर्गंध दूर होती है और ताजगी आती है।

कोई टिप्पणी नहीं: