देश की आशा हिंदी भाषा

समर्थक

बुधवार, 20 जुलाई 2011

फेसबुक ने मिलवाया 11 साल के बिछुड़े को

फेसबुक दोस्तों को ही नहीं बल्कि बिछुड़े को भी मिलाने का काम कर रही है। ताजा उदाहरण पुणे के मनोहर का है। मनोहर वेंकटरमन नेमानिवर 28 दिसंबर 2000 को अपने घर नांदेड़ से गायब हो गया था।

रेस्टोरेंट चलाने वाले मनोहर के पिता ने अपने बेटे के गुम होने की रिपोर्ट भी लिखवाई पर कुछ पता नहीं चला। इसके बाद पिछले दिनों फेसबुक पर मनोहर के घर वाले शिर्डी में रहने वाले मनोहर के एक दोस्त के संपर्क में आए।

मनोहर के इस दोस्त से बातचीत में पता चला कि मनोहर शिर्डी में दर्शन के लिए आता रहता है। परिवार वालों ने तुरंत पुलिस को इसकी जानकारी दी। कुछ ही दिनों में पुलिस ने मनोहर को मंदिर के पास पकड़ लिया।

मनोहर ने बताया कि वह होटल में वेटर का काम कर रहा है। पिता खुश हैं कि बेटा मिल गया पर इस बात का पता नहीं चला कि आखिर वह घर से गया क्यों था। कुछ भी हो फेसबुक का रोल तो इस घटना में मजेदार है।

3 टिप्‍पणियां:

Anandkumar Nakhare ने कहा…

nice item......... achha kam kiya iss blogger ne aur facebook real achha kam karta hai.......!

boletobindas ने कहा…

kuch to acha ho raha hai...

Ramswaroop ने कहा…

Bhagwan Sabhi Bichhude Logo Ko mila de