देश की आशा हिंदी भाषा

समर्थक

सोमवार, 21 नवंबर 2011

फेसबुक पर लगाईं 'धर्मस्थल की विवादास्पद फोटो', शांत शहर में लगी आग!


कारंजा/मंगरुलपीर (वाशिम)/नागपुर.शांतिप्रिय माने जाने वाले कारंजा शहर में रविवार को एक स्थानीय युवक के फेसबुक पर एक धर्मस्थल को लेकर आई विवादास्पद तस्वीर को लेकर शहर में तनाव पैदा हो गया। दुकानों पर पथराव व आगजनी की घटनाओं के बाद भगदड़ मचने के साथ ही दहशत फैल गई। शहर में कफ्यरू सी स्थिति पैदा हो गई।
 
बाद में पुलिस व नागरिकों की सतर्कता के कारण स्थिति पर नियंत्रण पाया गया। शहर में भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने गगन रॉय नामक एक युवक को हिरासत में भी लिया है।
 
इस बीच घटना की जानकारी जिले के मंगरूलपीर में पहुंचते ही वहां भी सायंकाल 6.30 बजे फेसबुक पर आई तस्वीर से नाराज समाज के युवकों ने शहर में जमकर पथराव करते हुए उत्पात मचाया। इन युवकों ने मानोरा चौक से लेकर सुभाष चौक के बीच पड़नेवाले बाजार की दुकानों पर जमकर पत्थर बरसाए, जिससे दुकानदारों ने फटाफट अपनी दुकानें बंद कर लीं।
 
उत्पातियों ने दुकानों के सामने खड़े दो पहिया वाहनों से तोड़फोड़ भी की। अकस्मात घटी इस घटना के कारण मंगरूलपीर में अफवाहों का बाजार गर्म हो गया। तोड़फोड़ की जानकारी मिलते ही थानेदार दोनकलवार ने पुलिस दल के साथ मिलकर हमलावरों की खोजबीन आरंभ कर दी है।
 
इस घटना को देखते हुए पहले एक दल विशेष ने पुलिस को दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का ज्ञापन सौंपा था। उधर दूसरे समुदाय के नागरिकों ने भी पुलिस को ज्ञापन देकर फेसबुक पर आयी आपत्तिजनक तस्वीर के कर्ता धर्ता पर कार्रवाई की मांग करने के साथ ही बेवजह शहर में तोड़फोड़ एवं कटुता का माहौल पैदा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।
 
रविवार को एक होटल मालिक के पुत्र गगन रॉय के फेसबुक पर आए विवादास्पद चित्र के कारण एक समाज विशेष क्रोधित हो उठा और समाज के नागरिकों में रोष फैल गया। बाद में इस विवादास्पद तस्वीर के विरोध में दोपहर २ बजे के आस-पास शहर में भारी तनाव पैदा हो गया और इसी बीच स्थानीय मुख्य मार्ग पर स्थित मनसुखलाल विनोद रॉय शहा की बर्तन की दुकान पर कुछ युवकों ने भारी तोड़फोड़ करने के साथ ही मनसुखलाल की मोटरसाइकिल भी जला दी।
 
गुस्साए युवकों ने 20 से 30 अन्य मोटरसाइकिलों की भी तोड़फोड़ की। गुस्साए युवक यहीं पर नहीं रुके और उन्होंने स्थानीय रामपुरा निवासी ताराचंद गुप्ता के घर को भी निशाना बनाते हुए उनके बड़नेरा निवासी दामाद की नई कार को भी भारी नुकसान पहुंचाया। इस बीच संपूर्ण शहर में दंगे की अफवाह फैलने से भगदड़ मच गई और सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान व दुकानें बंद हो गईं।
 
नाराज लोगों ने भांडुप में भी जमकर तोड़फोड़ और पथराव किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह मामला काबू में किया और फोटो अपलोड करने के संदेह में एक युवक को हिरासत में लिया है। रविवार शाम चार बजे भांडुप इलाके में उस समय तनाव की स्थिति बन गई जब एक समुदाय के लोगों को आपत्तिजनक फोटो की जानकारी मिली।
 
नाराज समुदाय के लोग भारी मात्रा में इकठ्ठा हुए और पथराव करना शुरू कर दिया। कई दुकानों को निशाना बनाया गया। सोनापुर रोड पर वाहनों पर पत्थर फेंके गए। कई बसों में तोड़फोड़ की गई। जोन सात के पुलिस उपायुक्त संजय शिंत्रे के अनुसार एक व्यक्ति को संदेह के आधार पर हिरासत में लिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: