देश की आशा हिंदी भाषा

समर्थक

गुरुवार, 10 नवंबर 2011

'ट्रिपल इलेवन' में ना करें लव मैरिज

अंकों का संयोग,

ट्रिपल इलेवन यानी 11.11.11 (11 नवंबर 2011) को यादगार बनाने के लिए लव मैरिज पर जोर दिया जा रहा है। इस दिन राजधानी में करीब 70 जोड़े परिणय सूत्र में बंध सकते हैं। इसके लिए आर्य समाज सहित शादी करने वाली अन्य संस्थाओं में पंजीयन भी शुरू हो गया है। पंडितों के मुताबिक इस दिन विवाह के लिए कोई मुहूर्त नहीं है, लेकिन लव मैरिज (प्रेम विवाह) के लिए यूं भी किसी मुहूर्त की जरूरत नहीं होती।

ट्रिपल इलेवन 100 वर्ष बाद आ रहा है, इसलिए इसे यादगार बनाने के लिए लोग तरह-तरह के जतन करने में लगे हैं। कोई इस दिन मकान खरीदेगा तो कोई नए व्यापार की शुरुआत करने वाला है। कोई शादी कर इस दिन को यादगार बनाना चाहता है।
पंडितों के अनुसार इस दिन विवाह के लिए कोई मुहूर्त नहीं है। ज्योतिषाचार्य देवेन्द्र पांडे ने बताया कि 11 नवंबर को विवाह का मुहूर्त नहीं है। जो मुहूर्त में विश्वास नहीं करते वे इस दिन शादी कर सकते हैं

111111,
गंधर्व विवाह के लिए किसी मुहूर्त की आवश्यकता नहीं पड़ती। भगवान कृष्ण ने भी गंधर्व विवाह किया था। श्री पांडे ने बताया कि उनके पास करीब 30 जो़ड़े इस दिन शादी करने के लिए सलाह ले चुके हैं।

लव मैरिज के लिए अभी से पंजीयन शुरू हो गया है। आर्य समाज से जु़ड़ी अधिवक्ता छाया ने बताया कि बताया कि यहां सामान्य दिनों की अपेक्षा खास दिनों में अधिक शादी होती है। 11 नंवबर को उनके यहां 15 से अधिक लव मैरिज होने की संभावना है। सितारों पर ध्यान दिया जाए तो 11/11/11 के दिन तारीख का ही चमत्कार है किसी विशेष मुहूर्त या शुभता का नहीं।

अत: इस दिन की जाने वाली शादी सफल होगी या नहीं होगी कुछ भी कहा जाना मुश्किल है। हिन्दू मतानुसार तो इस दिन विवाह का कोई मुहूर्त है ही नहीं। देवउठनी एकादशी के पश्चात जितने योग हैं वे सब 11 तारीख को छोड़कर ही बताए गए हैं।

इस दिन शादी करने वाले पहले यह तय कर लें कि वे अपनी मैरिड लाइफ को शानदार बनाना चाहते हैं या मात्र अपनी शादी की तारीख को यादगार।

कोई टिप्पणी नहीं: